HomeNational

सहानुभूति की राजनीति: रिजवानुर की मां से मिलीं ममता, अनीस खान के पिता से मोहम्मद सलीम ने की मुलाकात

सहानुभूति की राजनीति: रिजवानुर की मां से मिलीं ममता, अनीस खान के पिता से मोहम्मद सलीम ने की मुलाकात

कोलकाता, 3 मई (आईएएनएस)। पश्चिम बंगाल में ईद के मौके पर सहानुभूति की राजनीति देखने को मिली, जब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दिवंगत ग्राफिक डिजाइनर रिजवानुर रहमान की मां किश्वर जहां से मुलाकात की, जिसकी 21 सितंबर, 2007 को रहस्यमय तरीके से मौत हो गई थी।

दूसरी ओर, माकपा पोलित ब्यूरो सदस्य और पार्टी के राज्य सचिव मोहम्मद सलीम ने छात्र नेता अनीस खान के पिता सलेम खान से मुलाकात की, जिसकी 19 फरवरी, 2022 को रहस्यमय तरीके से मृत्यु हो गई थी।

एक चीज को छोड़कर दोनों मौतों में काफी समानताएं थीं। जब रिजवानुर की मृत्यु हुई, तब बुद्धदेव भट्टाचार्य के नेतृत्व वाली वाम मोर्चा सरकार सत्ता में थी, जबकि ममता बनर्जी विपक्ष का चेहरा थीं।

वहीं अनीस खान की मृत्यु तब हुई, जब ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री थीं, जबकि वाम मोर्चा का राज्य विधानसभा में एक भी प्रतिनिधि नहीं है।

इसके अलावा काफी समानताएं हैं।

रिजवानुर की मौत के बाद, कोलकाता पुलिस के तीन शीर्ष अधिकारियों – तत्कालीन पुलिस आयुक्त प्रसून मुखर्जी, तत्कालीन उपायुक्त (मुख्यालय) ज्ञानवंत सिंह और तत्कालीन उपायुक्त (जासूसी विभाग) अजय कुमार की कथित भूमिका सवालों के घेरे में आ गई। यह आरोप लगाया गया था कि उन्होंने रिजवानूर को उद्योगपति अशोक तोडी की बेटी प्रियंका तोडी से अलग करने में भूमिका निभाई थी।

तब तीनों अधिकारियों को उनकी कुर्सियों से हटा दिया गया और महत्वहीन पदों पर भेज दिया गया।

अनीस खान के मामले में उसके परिवार वाले शुरू से आरोप लगाते रहे हैं कि वर्दी में पुलिसकर्मियों ने खान की हत्या की है। मामले के सिलसिले में एक नागरिक स्वयंसेवक (सिविक वॉलंटियर) और एक होमगार्ड को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। हालांकि, खान के परिवार के सदस्यों ने गिरफ्तारी को महज एक दिखावा करार दिया है।

रिजवानुर की हत्या के बाद, बुद्धदेव भट्टाचार्य के नेतृत्व वाली सरकार ने राज्य पुलिस के आपराधिक जांच विभाग (सीआईडी) को मामले की जांच करने का आदेश दिया था।

हालांकि, उस समय रिजवानुर के परिवार के सदस्यों और ममता बनर्जी ने मामले की सीबीआई जांच की मांग की थी। बाद में सीबीआई ने मामले की जांच की और मौत का कारण आत्महत्या बताया।

और अब अनीस खान की मौत के बाद, राज्य सरकार ने घटना की जांच के लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया है। दिलचस्प बात यह है कि इस एसआईटी का नेतृत्व ज्ञानवंत सिंह कर रहे हैं।

खान के पिता सलेम खान शुरू से ही कहते रहे हैं कि वह चाहते हैं कि सीबीआई उनके बेटे की मौत की जांच करे।

उन्होंने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो वह अपनी मांग के समर्थन में सुप्रीम कोर्ट जाएंगे।

–आईएएनएस

एकेके/एएनएम

RECOMMENDED FOR YOU

Loading...