में स्त्री रोग विशेषज्ञ के 20 पदों को रोककर

इंदौर ।   मप्र लोकसेवा आयोग (पीएससी) ने स्त्री रोग विशेषज्ञों के पदों पर पूर्ति के लिए जारी चयन प्रक्रिया में पदों को लेकर पुनरीक्षित पद विवरण जारी किया है। पीएससी लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अंतर्गत पहले कुल 153 पदों के लिए चयन प्रक्रिया शुरू की थी। अब पीएससी ने इन पदों को दो भागों में बांट लिया है। इसी के अनुसार चयन सूची घोषित की जाएगी। मंगलवार को पीएससी ने पुनरीक्षित पद विवरण जारी किया। इसके अनुसार 87 प्रतिशत पदों को मुख्य सूची में रखा गया है। पीएससी के अनुसार ओबीसी के 14 प्रतिशत आरक्षण के आधार पर कुल 87 प्रतिशत पद यानी 133 पदों के लिए चयन की मुख्य सूची जारी की जाएगी। शेष 20 पदों के लिए प्रावघिक चयन सूची घोषित होगी। हाई कोर्ट का ओबीसी आरक्षण पर जारी लंबित याचिका पर जब तक अंतिम निर्णय नहीं आता तब तक सिर्फ मुख्य सूची के अधीन 87 प्रतिशत यानी 133 पदों पर ही चयन किया जाएगा। 20 पदों पर चयन हाई कोर्ट के निर्णय के अधीन होगा। यदि कोर्ट 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण के पक्ष में निर्णय देता है तो इन पदों को ओबीसी से भरा जाएगा। यदि निर्णय आरक्षण के विपरीत होता है तो अनारक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों से इन शेष पदों की पूर्ति की जाएगी। पीएससी द्वारा जारी इस स्पष्टीकरण के साथ ही तय हो गया है कि बुधवार-गुरुवार को पीएससी स्त्री रोग विशेषज्ञों के लिए चयन सूची जारी कर देगा। जुलाई 2022 में पीएससी ने इन पदों के लिए विज्ञापन जारी कर प्रक्रिया शुरू की थी। पीएससी अब अन्य तमाम परीक्षाओं में भी 87 प्रतिशत के फार्मूला के आधार पर ही चयन सूची जारी कर रहा है। उम्मीद की जा रही है कि सबसे बड़ी परीक्षा राज्यसेवा में भी आयोग इसी फार्मूले पर अमल करते हुए परिणाम जारी कर देगा। इससे अब लंबित परिणाम जारी तो हो ही सकेंगे। अभ्यर्थियों का असंतोष भी शांत होगा।