HomeWorldInternational

आज पहली बार पीएम शहबाज करेंगे यूएन की जनरल असेंबली को संबोधित, यूएन प्रमुख ने दी उन्‍हें एक खास सलाह

आज पहली बार पीएम शहबाज करेंगे यूएन की जनरल असेंबली को संबोधित, यूएन प्रमुख ने दी उन्‍हें एक खास सलाह



नई दिल्‍ली
पाकिस्‍तान में बाढ़ से हुई भीषण तबाही के लिए न सिर्फ पीएम शहबाह शरीफ पूरी दुनिया से मदद मांग रहे हैं बल्कि यूएन ने भी दुनिया के देशों से पीडि़तों के लिए मदद करने की अपील की है। संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा के 77वें सत्र में हिस्‍सा लेने के लिए पीएम शहबाज शरीफ इन दिनों न्‍यूयार्क में हैं। यहां पर ही उन्‍होंने यूएन चीफ से मुलाकात की है। इसको लेकर पीएमएल-एन ने एक ट्वीट भी किया है। पीएम शहबाज शरीफ आज शुक्रवार 23 सितंबर 2022 को असेंबली को संबोधित करने वाले हैं।

पीएम शहबाज का यूएनजीए में पहला संबोधन
इस संबोधन में शहबाज देश में आई बाढ़ के लिए विश्‍व से मदद की खुली अपील भी कर सकते हैं। बता दें कि शहबाज शरीफ का ये यूएन जनरल असेंबली में पहला संबोधन होगा। उनके इस भाषण पर भारत की भी निगाह लगी हुई है। यहां पर ये भी बताना जरूरी है कि देश में उठ रही मांग के बाद भी शहबाज शरीफ ने भारत से औपचारिक मदद मांगने से किनारा किया हुआ है।

बाढ़ से पाकिस्‍तान को 30 अरब डालर का नुकसान
इस भीषण बाढ़ से पाकिस्‍तान को 30 अरब डालर का नुकसान होने का आकलन लगाया गया है। इसके अलावा बाढ़ से अब तक 1500 लोगों की जान जा चुकी है। संयुक्‍त राष्‍ट्र महासचिव एंटोनियो गेटेरेस लगातार पाकिस्‍तान के लिए मदद करने की अपील कर रहे हैं। इसके लिए उन्‍होंने पीएम शहबाज शरीफ को एक सलाह भी दी है। अपनी सलाह में उन्‍होंने कहा है कि शहबाज शरीफ न्‍यूयार्क में या फिर यूरोप के किसी भी देश में मददमांगने के लिए एक डोनर कांफ्रेंस आयोजित करें। इसमें वो पाकिस्‍तान के हालातों की जानकारी दें। उन्‍होंने उम्‍मीद जताई है कि इससे पाकिस्‍तान को पीडि़तों के लिए मदद जरूर मिल जाएगी।

यूएन हैडक्‍वार्टर में बाढ़ पीडि़तों की तस्‍वीरों की प्रदर्शनी
शहबाज शरीफ ने न्‍यूयार्क में पत्रकारों से हुई वार्ता के दौरान बताया है कि यूएन हैडक्‍वार्टर में आम सभा में भाग लेने आए प्रतिनिधियों का ध्‍यान खींचने के लिए देश में आई बाढ़ की एक प्रदर्शनी भी लगाई गई है। यूएन चीफ की सलाह के बाबत पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्‍होंने कहा कि फिलहाल डोनर कांफ्रेंस की तारीख अब तक तय नहीं की गई है। उन्‍होंने उम्‍मीद जताई कि ये जल्‍द ही तय कर ली जाएगी। शहबाज शरीफ का कहना है कि इस बाढ़ से एक करोड़ घर तबाह हो गए हैं और 40 लाख एकड़ कृषि तबाह हो गई है। करीब 9 लाख पशुधन का नुकसान इस बाढ़ में हुआ है। हजारों किमी लंबी सड़के पूरी तरह से बर्बाद हो गई हैं।

यूएन चीफ कर चुके हैं पाकिस्‍तान का दौरा
गौरतलब है कि पिछले दिनों यूएन प्रमुख ने पाकिस्‍तान में आई बाढ़ का हवाई दौरा किया था। उन्‍होंने हालातों पर चिंता जताई थी। इसके अलावा यूएन ने पाकिस्‍तान की मदद के लिए एक कैंपेन भी शुरू किया था जिसमें 16 करोड़ डालर की राशि एकत्रित की जानी थी। लेकिन यूएन की अपील के बाद भी इस इमरजेंसी फंड में बेहद कम मह ए‍क चौथाई राशि ही एकत्रित हो सकी है।

बाढ़ की वजह क्‍लाइमेट चेंज
पाकिस्‍तान सरकार देश में आई इस भीषण बाढ़ को क्‍लाइमेट चेंज का नाम दे रही है। सरकार विश्‍व से एक तरफ बाढ़ पीडि़तों के लिए मदद मांग रही है वहीं यूएन डेलवलेपमेंट प्रोग्राम ने शहबाज शरीफ को स्‍पष्‍ट शब्‍दों में यहां तक कहा है कि वो एक अंतरराष्‍ट्रीय एजेंसी की नियुक्ति करें जो बाढ़ पीडि़तों के लिए दी जाने वाली राशि को गलत हाथों में जाने से रोक सके। यूएनडीपी के बयानों से साफ जाहिर है कि यूएन को वहां के नेताओं पर विश्‍वास नहीं है।

Get all latest News in Hindi (हिंदी समाचार) related to politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and World news in Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter and Google news for latest Hindi News and International news updates.

google news

RECOMMENDED FOR YOU

Loading...