संगठन द रजिस्टेंस फ्रंट की धमकी जल्द बनाएंगे कश्मीरी पंडितों

इस्लामाबाद । पुलिस ने इसकी पुष्टि की है कि दक्षिणी वजीरिस्तान में दर्जनों सशस्त्र आतंकवादियों ने पुलिस स्टेशन पर धावा बोलकर हथियार लूटकर फरार हो गए। अधिकारी रहमान वजीर के हवाले से बताया कि रॉकेट लांचर और भारी हथियारों से लैस आतंकवादी वाना में पुलिस थाने में घुस गए। उन्होंने कहा कि करीब 50 आतंकवादी स्टेशन के सामने के गेट को उड़ाने के बाद अंदर घुसे। एक अन्य पुलिस अधिकारी ने कहा कि आतंकवादियों के सामने भारी संख्या में थाना प्रभारी सहित लगभग 20 पुलिसकर्मियों ने कुछ समय तक संघर्ष किया लेकिन बाद में उन्हें बंधक बना लिया गया।

रिपोर्ट के मुताबिक स्थानीय पुलिस ने कहा कि आतंकवादी स्टेशन से सिर्फ आठ एके-47 राइफलें ही ले गए। सूत्रों ने कहा कि हमले में एक पुलिस कांस्टेबल घायल हो गया जबकि एक कथित आतंकवादी मारा गया।

सूत्रों के मुताबिक फ्रंटियर कोर (एफसी) के जवानों के साथ मुठभेड़ में कथित आतंकवादी मारा गया। बाद में शव बागीचा इलाके से बरामद किया गया। हमले के बाद पुलिस स्टेशन को कुछ समय के लिए एफसी ने अपने कब्जे में ले लिया लेकिन बाद में मंगलवार दोपहर तक इसे वापस पुलिस को सौंप दिया गया। पुलिस ने कहा कि आसपास के इलाकों से वाना में और बल तैनात किया गया है और वर्तमान में स्टेशन के अंदर 100 पुलिसकर्मी हैं।