Guterres

जेनेवा । संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने कहा कि ट्विटर कौन चला रहा है इसको लेकर उनकी कोई व्यक्तिगत भावना नहीं है हालांकि उन्हें इस बात में दिलचस्पी है कि इस सोशल मीडिया मंच को चलाया कैसे जा रहा है। सोशल मीडिया मंचों पर अभद्र भाषा के इस्तेमाल को रोकने अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता सुनिश्चित करने के महत्व को रेखांकित करते हुए गुतारेस ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा मंच कौन चला रहा है इसको लेकर मेरी कोई निजी राय नहीं है। 

उन्होंने कहा कि मेरी रुचि बात में अधिक है कि मंच को चलाया कैसे जा रहा है। गुतारेस से पूछा गया था कि क्या उन्हें लगता है कि ट्विटर के मालिक एलोन मस्क अभिव्यक्ति की स्वतत्रंता के लिए खतरा हैं और अगर अरबपति सोशल मीडिया मंच के प्रमुख का पद छोड़ देते हैं तो क्या उन्हें राहत मिलेगी? सीएनएन की खबर के अनुसार ट्विटर उपयोगकर्ताओं ने सोमवार को मस्क के मंच के प्रमुख का पद छोड़ने के लिए मतदान किया था। मस्क (51) ने अपने 12.2 करोड़ ‘फॉलोअर्स’ से पूछा था कि उन्हें ट्विटर के प्रमुख का पद छोड़ना चाहिए या नहीं।

इस ‘सर्वेक्षण’ पर 1.7 करोड़ वोट आए जिनमें से करीब 57.5 प्रतिशत लोगों ने ‘हां’ का विकल्प चुना। मस्क ने रविवार को ट्वीट किया था क्या मुझे ट्विटर प्रमुख का पद छोड़ देना चाहिए? मैं ‘पोल’ के परिणाम का पालन करूंगा। उन्होंने बाद में एक ट्वीट में कहा जैसा कि कहा जाता है सोच-समझकर कोई की मुराद मांगे क्योंकि वह पूरी हो सकती है। 

गुतारेस ने कहा कि प्रेस की स्वतंत्रता को बनाए रखने और साथ ही अभद्र व उग्रवाद के रूपों से बचाने में सोशल मीडिया मंचों की एक विशेष जिम्मेदारी है। संयुक्त राष्ट्र के प्रमुख ने कहा अगर प्रेस की स्वतंत्रता खतरे में हो पत्रकारों को अपना काम करने की अनुमति नहीं दी जाए साथ ही अभद्रता का प्रसार हो तो यह देखकर मुझे काफी दुख होगा। उन्होंने कहा इसलिए किसी मंच के मालिक को मेरी यही सलाह है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को बनाए रखे खासकर पत्रकारों की साथ ही यह सुनिश्चित करें कि नव-नाज़ियों श्वेत वर्चस्ववादियों सहित अभद्र तथा कट्टरपंथी विचारकों को उनके मंच पर अपने हित साधने का मौका न मिले। गुतारेस के ट्विटर पर 20 लाख ‘फॉलोअर्स’ हैं।