HomeWorld

चीन-पाक संबंधों को नुकसान पहुंचाने की सभी साजिशों को हराएगा चीन

चीन-पाक संबंधों को नुकसान पहुंचाने की सभी साजिशों को हराएगा चीन

बीजिंग, 12 मई (आईएएनएस)। 11 मई को चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी के साथ वीडियो वार्ता की। वांग यी ने जोर दिया कि चीन पाकिस्तान के आतंकवाद विरोधी क्षमता को उन्नत करने का समर्थन करेगा। चीन पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय संबंधों को बर्बाद करने वाली सभी साजिशों को पराजित करेगा।

वांग यी ने कहा क पाकिस्तान की नयी सरकार एक संघीय सरकार है। लेकिन सरकार में चाहे कोई भी पार्टी आए, वह चीन-पाक मैत्री की सक्रिय भागीदार और ²ढ़ समर्थक होती है। विश्वास है कि चीन और पाकिस्तान के बीच व्यापक सामरिक सहयोग साझेदार संबंध अवश्य ही नये कदम बढ़ाएंगे। चीन पहले की तरह पाकिस्तान द्वारा देश की प्रभुसत्ता, सुरक्षा और सम्मान की रक्षा करने का समर्थन करता रहेगा, पाकिस्तान द्वारा देश के विकास और राष्ट्रीय पुनरुत्थान करने का समर्थन करेगा। चीन को विश्वास है कि पाकिस्तान भी चीन से संबंधित केंद्रीय हितों के सभी सवालों पर ²ढ़ता के साथ चीन के साथ खड़ा हो सकेगा। चीन पाकिस्तान द्वारा आर्थिक और वित्तीय स्थिरता की रक्षा करने का समर्थन करेगा और पाकिस्तान के साथ चीन-पाक आर्थिक गलियारे का सह-निर्माण करेगा।

वार्ता में पाक विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो ने कहा कि पाक-चीन मैत्री पाकिस्तान की विदेश नीति का मील पत्थर है, साथ ही पाकिस्तान की रणनीति में प्राथमिकता है। चाहे सामने कोई भी मुसीबत या चुनौती क्यों न आए, पाक-चीन मैत्री मजबूत रहेगी। पाकिस्तान एक चीन की नीति पर कायम रहता है और थाईवान, शिनच्यांग, तिब्बत और दक्षिण चीन सागर जैसे सवालों पर चीन के रुख का ²ढ़ समर्थन करता है। पाकिस्तान चीन के साथ द्विपक्षीय आर्थिक सहयोग का विस्तार करने, व्यापारिक आवाजाही का विस्तार करने के साथ-साथ ज्यादा चीनी निवेशकों को आकर्षित करना चाहता है, ताकि पाक-चीन आर्थिक गलियारे के निर्माण में और ज्यादा उपलब्धियां हासिल हो सकें।

वार्ता में दोनों नेताओं ने पाकिस्तान में चीनी नागरिकों और चीनी संस्थाओं की सुरक्षा समस्या पर विचार विमर्श भी किया। वांग यी ने जोर दिया कि बीते कुछ समय में पाकिस्तान में क्रमश: चीनी लोगों के खिलाफ आतंकवादी हमले हुए हैं। हालिया फौरी काम जल्द ही अपराधियों की खोज कर उन्हें कड़ी सजा देना। साथ ही पाकिस्तान में चीनी लोगों, संस्थाओं और परियोजनाओं की सुरक्षा की रक्षा को उन्नत किया जाना चाहिए, ताकि फिर ऐसी घटनाएं न हों।

बिलावल ने कहा कि पाकिस्तान सभी आतंकवादी कार्रवाइयों का ²ढ़ विरोध करता है। अपराधियों की तलाशी करने के लिए पाक खुफिया विभाग और प्रासंगिक संस्थाएं दिन-रात मेहनत से काम कर रही हैं। पाकिस्तान चीन के साथ सहयोग कर अपनी आतंकवाद विरोधी क्षमता को उन्नत करना चाहता है, ताकि पाकिस्तान अपने देश में सभी चीनी लोगों की सुरक्षा को सुनिश्चित कर सके।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

–आईएएनएस

एएनएम

RECOMMENDED FOR YOU

Loading...