HomeTechnologyTech Tips

अगर जानना चाहते हैं कि आपका फोन सेहत के लिए है कितना खतरनाक, तो इन आसान स्टेप्स को करें फॉलो

अगर जानना चाहते हैं कि आपका फोन सेहत के लिए है कितना खतरनाक, तो इन आसान स्टेप्स को करें फॉलो



नई दिल्ली: हम जब भी कोई नया मोबाइल खरीदने का प्लान बनाते हैं, तो सबसे पहले हम अपना बजट सेट करते हैं और देखते है की कौन सा फोन हमारे बजट का है कौन सा नहीं और फिर बजट के अनुसार शानदार कैमरा, पावरफुल प्रोसेसर, दमदार बैटरी और अटरेक्टिव डिजाईन जैसी चीजें देखते हैं और फिर खरीदते हैं।

हम सभी तरह के फोन में यह सारे फंक्शन को ढूंढते है क्योंकि हमारे लिए यह सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है, लेकिन इन सबके बीच में हम एक ऐसी चीज को नजरअंदाज कर देते हैं, जो हमारी हेल्थ के लिए बहुत ज्यादा ही जरूरी होती है। इस चीज़ का नाम है फोन की SAR वेल्यू।

क्या होती है SAR वैल्यू?

सार वैल्यू मोबाइल फोन से निकलने वाली रेडिएशन को मापने में मदद करती है। इससे हमें ये भी पता चलता है कि मोबाइल से निकलने वाला रेडिएशन सिर्फ हमारे लिए नहीं, बल्कि पक्षियों और पर्यावरण के लिए भी कितना खतरनाक होता है। इस हानिकारक रेडिएशन को आंकने के लिए फोन की SAR Value बहुत ही जरूरी होता है। हर मोबाइल की सार वैल्यू अलग होती है।

किसी डिवाइस से निकलने वाली रेडिएशन जिसे हमारा शरीर एब्जॉर्ब करता है, इसे SAR में मापा जाता है। इससे हमें पता चलता है कि हमारे शरीर इसे यूज करते वक्त कितनी रेडियो फ्रीक्वेंसी को एब्जॉर्ब करता है ।मोबाइल फोन्स के लिए स्पेसिफिक SAR वैल्यू तय की गई है। आपकी जानकारी के लिए बता दें की भारत में DoT (डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्युनिकेशन) ने मोबाइल फोन्स के लिए 1.6W/Kg (1 ग्राम से टिशू पर) की वैल्यू तय की है।

ऐसे पता कर सकते है अपने फोन की SAR Value

यदि आप भी जानना चाहते है अपने फोन की सार वैल्यू तो आपको पहले अपने स्मार्टफोन से *#07# डायल करना पड़ेगा। यह नंबर डायल करने के बाद फोन की SAR Value फोन की डिस्प्ले पर दिखाई देने लगेगी । इसके साथ –साथ आपको यह भी पता लग जाएगा कि हेड सार और बॉडी सार कितना है। दरअसल सार वैल्यू को दो भागों में बांटा गया है। जिसे Head SAR और Body SAR कहते है ।

अगर इसे डिटेल में बताने की कोशिश करें तो पहला Head SAR यानी कि सिर और Body SAR यानि शरीर होता है । जब भी हम फोन पर बात करते है तो सिर मोबाइल के सबसे पास होता है। इसलिए सिर की सार वैल्यू अलग रखी गई है। इसी तरह जब फोन जेब में या हाथ में होता है तो उस स्थिति के लिए सार वैल्यू अलग के मापी जाती है।


google news

RECOMMENDED FOR YOU

Loading...