HomeMadhya Pradesh

एक जनवरी को कांग्रेस मनायेगी ‘संकल्प दिवस‘

एक जनवरी को कांग्रेस मनायेगी ‘संकल्प दिवस‘




24 Dec, 2022 09:45 AM IST BY

Untitled 12 copy 8

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष चन्द्रप्रभाष शेखर पूर्व मंत्री संगठन प्रभारी म.प्र. कांग्रस के उपाध्यक्ष प्रकाश जैन एवं प्रदेश कांग्रेस के महासचिव राजीव सिंह ने संयुक्त पत्रकार वार्ता में कहा कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी 1 जनवरी 2023 से यह आवाज बुलंद कर रही है कि 2023 का साल मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी सरकार को बदलने का साल है। प्रदेश की जनता कांग्रेस सरकार बनाने को संकल्पित है। वर्ष 2023 में प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनेगी एवं कमलनाथ जी मुख्यमंत्री बनेंगे ।

इस संकल्प के साथ 1 जनवरी 2023 को पूर्वान्ह 11 बजे से तिरंगे झण्डे के साथ जिला कांग्रेस कमेटियों द्वारा कार्यालय से गांधी प्रतिमा तक कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पैदल यात्रा होगी। यात्रा की समाप्ति पर सभा आयोजित की जाएगी। सभा में भाजपा सरकार की जन विरोधी नीतियों का उल्लेख किया जाएगा। आज हर वर्ग का व्यक्ति परेशान है मंहगाई ने हर परिवार को मुश्किल में डाल रखा है। पेट्रोल-डीजल के दाम प्रतिदिन बढ़ाए जा रहे है। महिलाओं व आदिवासियों पर अत्याचार के मामले बढ़े है । नई नौकरिया मिलना तो दूर बेरोजगारी बढ़ रही है । छोटे व्यापारी छोटे उद्योग धंधे करने वाले सरकार की नीतियों के कारण परेशान है लघु उद्योग बंद हो रहे है किसानों को उत्पादन का उचित मूल्य नहीं मिल रहा है उर्वरको/खाद महंगे हो गए है कृषक वर्ग परेशान है। भाजपा सरकार में हर स्तर पर भ्रष्टाचार चरम पर है। प्रदेश सरकार के घोषणावीर मुख्यमंत्री ने हजारों घोषणाएं की है जिनका क्रियान्वयन नहीं हुआ है ।

आज भाजपा सरकार में म.प्र. की वस्तु स्थिति क्या है कृपया देखें

1. एनसीआरबी (राष्ट्रीय अपराध अनुसंधान ब्यूरो) की रिपोर्ट के मुताबिक मध्यप्रदेश आदिवासी अत्याचार में

पूरे देश में नंबर एक पर है

2. एनसीआरबी की रिपोर्ट के मुताबिक मध्यप्रदेश बच्चों के लिए देश का सबसे असुरक्षित प्रदेश है

3. मध्यप्रदेश बलात्कार और यौन शोषण के मामले में लगातर 4 वर्षों तक पूरे देश में नंबर एक पर

रहा है

4. वैश्विक गरीबी सूचकांक में मध्यप्रदेश देश के सबसे अधिक गरीब राज्यों में शामिल हैं

5. मध्यप्रदेश का अलीराजपुर जिला देश का सबसे गरीब जिला बन चुका है

6. ख़ुशी सूचकांक की बात करें तो 36 राज्यों की सूची में मध्यप्रदेश सबसे नीचे गिरकर 35वें नंबर पर

है

7. स्वास्थ्य सूचकांक की बात करें तो यहाँ भी 19 बड़े राज्यों की सूची में मध्यप्रदेश सबसे नीचे

गिरकर 17वें नंबर पर है

8. शिक्षा सूचकांक की बात करें तो 29 राज्यों की सूची में मध्यप्रदेश 23वें नंबर पर है

9. देश में उत्तरप्रदेश और बिहार को छोड़कर मध्यप्रदेश में सर्वाधिक 2ण्34 करोड़ लोग गरीबी रेखा के नीचे हैं

10. शिशु मृत्यु दर भी मध्यप्रदेश में सर्वाधिक है। राष्ट्रीय स्तर पर शिशु मृत्यु दर प्रति हज़ार 33 हैए

जबकि मध्यप्रदेश में शिशु मृत्यु दर 43 है

11. मातृ मृत्यु दर में भी मध्यप्रदेश अव्वल है। राष्ट्रीय मातृ मृत्यु दर प्रति लाख प्रसव 130 हैए परन्तु

मध्यप्रदेश में मातृ मृत्यु दर प्रति लाख प्रसव 173 है

12. मध्यप्रदेश में फसलों का क्षेत्रफल घट रहा है

13. मध्यप्रदेश में हजारों शासकीय स्कूलल बंद किये जा रहे है और स्कूल में प्रवेश लेने वाले छात्रों की

संख्या में भी लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है

14. मध्यप्रदेश पर वर्तमान में 3 लाख 32 हज़ार करोड़ का कर्ज है और 39ए 486 का और कर्ज लिया

जा रहा है

15. मध्यप्रदेश के हर वयक्ति पर 40000 से अधिक का कर्ज है

16. मध्यप्रदेश में पिछले कई वर्षों से कोई भर्ती परीक्षा नहीं हुई है

17. मध्यप्रदेश में व्यापम और ई.टेंडर जैसे हजारों करोड़ के घोटाले हुये हैं

18. आत्महत्या के मामले में भी मध्यप्रदेश ही अव्वल है

19. महंगाई और बेरोजगारी से लेकर घोटालों और अपराधों में पहले से ही बढ़त बनाये हुये हैं

20. सबसे महंगा पेट्रोल.डीजलए सबसे महंगा वाहन पंजीयनए सबसे महंगी स्कूल शिक्षाए सबसे महंगी

बिजलीए सबसे महंगी खाद्य सामग्रीए सबसे महंगी स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए भी मध्यप्रदेश कुख्यात

है।

21. यहाँ कोरोना योद्धाओं को नौकरी से निकाला जा चुका है। 

22. यहाँ चयनित शिक्षक नियुक्ति के इन्तजार में आत्महत्या कर रहे हैंए यहाँ संविदा कर्मियों का कोई

भविष्य नहीं है

23. यहाँ अधिकांश आयोगों में ताले लगे हैं

24. वर्तमान में जो सरकार है वो भी 28 विधायकों की सौदेबाजी से बनी सरकार है

25. यहाँ की बीजेपी सरकार घोषणा वीर सरकार है।

कांग्रेस का संकल्प है- नया साल नया साल नया साल

नई सरकार कांग्रेस सरकार कमलनाथ सरकार। 

महंगाई कम ना कर सकी-भाजपा सरकार निकम्मी है

रोजगार दे ना सकी- भाजपा सरकार निकम्मी है

जो सरकार निकम्मी है- वह सरकार बदलनी है

आदिवासियों पर अत्याचार- निकम्मी है भाजपा सरकार

हर एक वर्ग है परेशान- सरकार सो रही लंबी तान

किसान हैं दुखीः परेशान- भाजपा निकम्मी सरकार

युवको को रोजगार दो- वर्ना कुर्सी छोड दो

15-15 लाख जमा करो- वर्ना कुर्सी छोड़ दो

चन्द्रप्रभाष शेखर प्रकाश जेन एवं राजीव सिंह ने कहा है कि प्रदेश कांग्रेस वर्ष 2023 में होने वाले चुनाव तक लगातार प्रदेश की भाजपा सरकार की जन विरोधी नीतियों तथा अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर जिसका जनता के जन-जीवन पर बुरा प्रभाव पड़ता है उन विषयों को उठायेंगी और इसके लिए हमारा संकल्प है कि कांग्रेस संघर्ष करेगी धरना-प्रदर्शन करेंगी जन जन आक्रोश रैलियों का आयोजन सभाओ तथा प्रचार-प्रसार के जरिये भाजपा सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगी । कांग्रेस संकल्पित है कि वह प्रदेश की जनता का आशीर्वाद प्राप्त कर सरकार बनाएगी ।



Get all latest News in Hindi (हिंदी समाचार) related to politics, sports, entertainment, technology and educati etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and MP news in Hindi. Follow us Google news for latest Hindi News and Natial news updates.

google news

RECOMMENDED FOR YOU

Loading...