HomeStateछत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़,रायपुर: भाजपा झूठे और मनगढ़ंत आंकड़े जारी कर मोदी सरकार की नाकामी को ढक रही है 

छत्तीसगढ़,रायपुर: भाजपा झूठे और मनगढ़ंत आंकड़े जारी कर मोदी सरकार की नाकामी को ढक रही है 




  •  भाजपा का अंकगणित कमजोर, मनमोहन सरकार के समय ज्यादा केन्द्रीय सहायता छत्तसीगढ़ को 

 
रायपुर
 भाजपा मीडिया प्रमुख प्रभारी अमित सिंह चिमनानी के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा मीडिया प्रभारी अमित चिमनानी का बयान हास्यपद है बचकाना है। अमित चिमनानी के द्वारा बयान में लिखी गई बातें और दिए गए आंकड़े ही चिमनानी के द्वारा लगाये गये जा रहे आरोप का खंडन भी कर रहा है। भाजपा के द्वारा मोदी सरकार की छत्तीसगढ़ के प्रति दलीय दुर्भावना के बचाव में किये जा रहे तथ्यहीन बेबुनियाद झूठ मंगढतन आरोप का पर्दाफाश भी कर रहा हैं।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि सीए अमित चिमनानी का अंकगणित कमजोर है उनको फिर से अध्ययन करना चाहिये। उनके खुद के जारी बयान को भी सच मान लिया जाये तो मनमोहन सरकार हर साल छत्तीसगढ़ को 35000 करोड़ देती थी। इसके अनुसार 5 साल में 1 लाख 75 हजार करोड़ होता है। जबकि हकीकत यह है कि मनमोहन सरकार से छत्तीसगढ़ को एवरेज पूरे 10 साल तक 58000 करोड़ प्रति वर्ष मिलता था जो कि रमन सरकार के सालाना बजट का 80 प्रतिशत से अधिक था। उस समय देश में जीएसटी कर प्रणालि नहीं लागू थी। राज्य अपना कर खुद वसूलता था। तब भी कांग्रेस की मनमोहन सरकार मोदी सरकार से ज्यादा मद्द छत्तीसगढ़ को देती थी।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि अमित चिमनानी यह दावा कर रहे हैं कि केंद्र सरकार ने राज्य को 4 साल में 1 लाख 71 हजार करोड़ से अधिक की राशि दी है और उसके पक्ष को मजबूत करने के लिए जो आंकड़े दे रहे हैं इंकम टैक्स से छत्तीसगढ़ को 29080 करोड़ मिलने का जो दावा है वह सरासर झूठा एवं मनगढ़ंत है। बीते 4 साल में छत्तीसगढ़ से लगभग 28500 करोड की इनकम टैक्स की कलेक्शन हुई है और उसका 41 प्रतिशत यानी लगभग 11688 करोड रुपए ही राज्य के हिस्से में आयेगी जिसे एक मुश्त केंद्र सरकार ने कभी भुगतान नही किया। अमित चिमनानी के द्वारा जीएसटी के मद से 29466 करोड़ और जीएसटी क्षतिपूर्ति के लिए 10 हजार करोड रुपए मिलने का दावा करना यह प्रमाणित करता है कि केंद्र सरकार राज्य के जीएसटी की मद की राशि और जीएसटी की क्षतिपूर्ति की राशि का पूर्ण भुगतान अब तक नहीं की है। जो लगातर केंद्र से मांगी जा रही है। छत्तीसगढ़ से मिले कुल कार्पोरेट टैक्स 31484 करोड़ को केंद्र के द्वारा राज्य को देने दावा भी सरासर झूठा है। 14 और 15 वे वित्त आयोग एवं मनरेगा की राशि का पूर्ण भुगतान आज की स्थिति में केंद्र सरकार ने नहीं किया है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि अमित सिंह चिमनानी का यह दावा कि यूपीए सरकार के दौरान राज्य को 5 साल में जितनी राशि मिलती थी। मोदी सरकार उसे ज्यादा यानी 5 गुना राशि दी है तो अमित चिमनानी को बताना चाहिए कि केंद्र में जब यूपीए की सरकार थी तो राज्य को 5 साल में लगभग 2 लाख 90 हजार करोड मिला था, तो क्या मोदी सरकार ने 4 साल में छत्तीसगढ़ को 11 लाख 60 हजार करोड़ दी है। इससे स्पष्ट समझ में आ गया कि अमित चिमनानी और भाजपा के नेता झूठे मनगढ़ंत आरोप लगाकर केंद्र सरकार की नाकामी को ढकने में लगे हैं।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि केंद्र सरकार ने 2022-23 में जीएसटी, इनकम टैक्स,वेल्थ टैक्स, एक्साइज ड्यूटी, और सर्विस टैक्स एवं कारपोरेट टैक्स के माध्यम से छत्तीसगढ़ को लगभग 27823 करोड मिलने का अनुमान किया है जो टैक्स कलेक्शन के आधार पर ऊपर नीचे होगा।


Get all latest News in Hindi (हिंदी समाचार) related to politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and State News in Hindi. Follow us on Google news for latest Hindi News and National news updates.

google news

RECOMMENDED FOR YOU

Loading...