गांधी के नेतृत्व में आज महाराष्ट्र पहुंचेगी भारत जोड़ो

नई दिल्ली।  कांग्रेस पार्टी की भारत जोड़ो यात्रा का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि जिस क्षण कोई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने जा खड़ा होता है वह पलटकर भाग जाते हैं। हरियाणा के नूंह के घसेरा गांव में मेवात दिवस समारोह को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस को भारत जोड़ो यात्रा करनी पड़ी क्योंकि संसद में उसकी आवाज दबाई जा रही थी।

कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर यात्रा को स्थगित करने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया के पत्र का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि यह यात्रा को रोकने का बहाना है। उन्होंने कहा नरेंद्र मोदी जी के चरित्र को समझें। चाहे वह कृषि आंदोलन हो या भूमि अधिग्रहण अध्यादेश जैसे ही उनके सामने कोई खड़ा हो जाता है नरेंद्र मोदी घूम के उल्टा भागना शुरू कर देते हैं। मुकाबला नहीं करते भाग जाते हैं मैदान से निकल जाते हैं। 

राहुल गांधी ने कहा संसद में जब हम राफेल नोटबंदी जीएसटी देश में बढ़ती नफरत जैसे मुद्दों को उठाने की कोशिश करते हैं तो हमारा माइक्रोफोन बंद हो जाता है। टीवी उधर कर देते हैं स्पीकर साहब का चेहरा दिखता है बस। लोकसभा में हमारी आवाज नहीं सुनी जा रही थी इसलिए हमें कन्याकुमारी से कश्मीर तक यह यात्रा शुरू करनी पड़ी। 

मनसुख मंडाविया के पत्र पर राहुल गांधी ने कहा यात्रा कश्मीर तक जाएगी। अब वे (भाजपा) एक नया विचार लेकर आए हैं। उन्होंने मुझे लिखा है कि कोविड आ रहा है इसलिए यात्रा रोक दें। मतलब अब यात्रा को रोकने के लिए बहाने बन रहे हैं। हिंदुस्तान की शक्ति से हिंदुस्तान की सच्चाई से ये लोग डर गए हैं। बता दें कि राहुल गांधी और अशोक गहलोत की एक गले लगते फोटो भी वायरल हो रही है।

इससे पहले फिरोजपुर में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने मीडिया से बात करते हुए कहा सार्वजनिक स्वास्थ्य के गंभीर मामलों में राजनीति की जा रही है। ऐसा माहौल बनाया जा रहा है कि ये यात्री ग़ैर-ज़िम्मेदार हैं। वे यात्रा को रोकने के बहाने के रूप में कोविड का उपयोग कर रहे हैं।