HomeIndia

भारत में कोरोना से हो रही मौतों का उड़ाया था मजाक, अब चीन में लगा लाशों का अंबार, सिर पीट रहे लोग

भारत में कोरोना से हो रही मौतों का उड़ाया था मजाक, अब चीन में लगा लाशों का अंबार, सिर पीट रहे लोग



चीन
चीन में कोरोना वायरस हाहाकार मचा रहा है और अस्पतालों में मरीजों को इलाज के लिए जगह नहीं मिल रही है। कोरोना वायरस के नये स्ट्रेन ने ड्रैगन के होश उड़ा दिए हैं और ऐसी रिपोर्ट है, कि चीन के अंतिम संस्कार सेंटर्स के बाहर लाशों के अंबार लग रहे हैं। हालांकि, किसी देश की ऐसी स्थिति पर शोक जताना चाहिए, लेकिन ये वही चीन है, जो पिछले साल अप्रैल-मई में जब भारत में कोरोना से हालात बेकाबू हो गये थे और हर दिन सैकड़ों लोगों की मौत हो रही थी, ऑक्सीजन के लिए त्राहिमाम मचा था, तो चीन ने हमारा मजाक उड़ाया था और अपनी पीठ ठोकी थी, लेकिन चीन की स्थिति भारत से भी खराब हो चुकी है।
 
चीन में भयानक हैं हालात
शी जिनपिंग प्रशासन ने भारी विरोध प्रदर्शनों के बाद जैसे ही ज़ीरो-कोविड पॉलिसी में ढील दी, ठीक वैसे ही एशियाई राष्ट्र चीन में कोविड-19 की खतरनाक वापसी हो गई। चीन में अस्पताल मरीजों से भर गए हैं। लोगों के लिए कोई फौरी तौर पर कोई राहत नहीं है, क्योंकि चीन में चल रही लहर के अगले साल तक बने रहने की उम्मीद है। महामारी विशेषज्ञ और स्वास्थ्य अर्थशास्त्री डॉ. एरिक फेगल-डिंग का अनुमान है कि अगले 90 दिनों में चीन की 60 प्रतिशत आबादी के संक्रमित होने की संभावना है। उन्होंने आशंका जताई है, कि “लाखों लोगों की मौतें होने की संभावना है।” एरिक के मुताबिक, पूर्वोत्तर चीन के अस्पतालों में शवों के ढेर देखे गए हैं। उन्होंने कहा कि, अब चीन उस नीति पर काम कर रहा है कि, “जो कोरोना पॉजिटिव हो रहा है, उसे होने दो, जो बच जा रहा है, उसे बचने दो और जो मर जा रहा है, उसे मर जाने दो। जल्दी इन्फेक्शन, जल्दी मौत, जल्दी महामारी का पीक और जल्दी से उत्पादन शुरू।” महामारी वैज्ञानिक ने इसे चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (CCP) के वर्तमान लक्ष्य का सारांश करार दिया।
 
कुछ घंटों में दोगुना हो रहे मरीज
एनपीआर डॉट ओआरजी की एक रिपोर्ट में महामारी विज्ञानी बेन काउलिंग के हवाले से कहा गया है कि, “अब चीन में कोरोना केस के डबल होने में कुछ ही घंटे लगते हैं।” उन्होंने कहा कि, अगले हफ्ते तक चीन की स्थिति अत्यंत ही खराब हो जाएगी। एरिक ने कहा कि, “R की गणना करना मुश्किल हो जाता है, जब F एक दिन के अंतराल में हो दोगुना होने लगे। क्योंकि, फिर पीसीआर टेस्ट करना मुश्किल हो जाता है।” आपको बता दें कि, R वह संख्या है जिसके द्वारा कोरोनावायरस या किसी रोग के फैलने की क्षमता की रेटिंग की जाती है। एरिक ने आशंका जताते हुए कहा कि, ‘चीन में जो स्थिति है, उससे साफ जाहिर होता है, कि धरती एक बार फिर से खतरे में है।’ Npr.org ने चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के वैज्ञानिकों के हवाले से अनुमान लगाया है, कि वर्तमान में चल रहे उछाल के दौरान देश में R की संख्या 16 है।
 
भारत का उड़ाया था मजाक
याद कीजिए, पिछले साल अप्रैल-मई के महीने में भारत की क्या स्थिति थी और किस तरह से भारत में लोग मर रहे हैं, ऑक्सीजन के लिए अस्पताल-दर-अस्पताल भटक रहे थे और भारत की मदद के लिए पूरी दुनिया ने अपना हाथ बढ़ाया था, उस वक्त चीन की कम्युनिस्ट पार्टी ने एक तस्वीर पोस्ट कर भारत का मजाक उड़ाया था। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी ने जो फोटो पोस्ट किया था, जिसमें एक तरफ चीन का रॉकेट उड़ता हुआ दिख रहा था, जबकि फोटो के दूसरे हिस्से में भारत में कोरोना से होने वाली मौतों की वजह से जलती चिताओं को दिखाया गया था। चीन ने भारत में होने वाली मौतों का बेशर्म मजाक उड़ाया था और लिखा था कि, “चीन में लगाई जा रही आग बनाम भारत में लगाई जा रही आग”। चीन ने उन दिनों अपने एक अंतरिक्षयान को लॉन्च किया था और कम्युनिस्ट पार्टी ने उसकी फोटो के साथ भारत में जलती लाशों की फोटो के साथ मजाक उड़ाया था।



Get all latest News in Hindi (हिंदी समाचार) related to politics, sports, entertainment, technology and educati etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and MP news in Hindi. Follow us Google news for latest Hindi News and Natial news updates.

google news

RECOMMENDED FOR YOU

Loading...