HomeIndia

IMD Cold Wave Forecast: कश्मीर में भारी बर्फबारी से यूपी-दिल्ली और राजस्थान में शीतलहर, जानें कोहरे से कब मिले

IMD Cold Wave Forecast: कश्मीर में भारी बर्फबारी से यूपी-दिल्ली और राजस्थान में शीतलहर, जानें कोहरे से कब मिले



नई दिल्ली 
 पहाड़ों में बर्फबारी के कारण मैदानी इलाकों में सर्दी बढ़ गई है। दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, उत्तरी राजस्थान व उत्तर प्रदेश समेत पूरे उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। घने कोहरे और शीतलहर के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने एडवाइजरी जारी की है कि अगले दो-तीन दिन में कोहरे के कारण और भी दिक्कत बढ़ सकती है। इस बीच, मंगलवार को घने कोहरे के कारण उत्तर प्रदेश और हरियाणा में कई जगहों पर दुर्घटनाएं हुईं। कोहरे के कारण पंजाब में स्कूल सुबह 10 बजे से खुलेंगे। पूरे कश्मीर में भी शीतलहर का प्रकोप तेज हो गया। सोमवार देर रात श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 3.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। दिल्ली सहित सिंधु-गंगा के मैदानी इलाकों में लगातार दूसरे दिन सुबह घना कोहरा छाया रहा, जिससे दृश्यता घटकर 50 मीटर रह गई। इस वजह से यातायात प्रभावित रहा और 11 ट्रेनें एक से पांच घंटे की देरी से चलीं।

उत्तर प्रदेश में कोहरे ने थामी रफ्तार
पश्चिमी विक्षोभ और हवाओं की रफ्तार कम होने से उत्तर प्रदेश में घना कोहरा हादसों का सबब बनने लगा है। मौसम विभाग के मुताबिक, कोहरे का प्रकोप अगले 48 घंटो में कम होगा। अगले 24 घंटे में पूर्वी उत्तर प्रदेश में घना कोहरा छाए रहने का अनुमान है। हालांकि, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ जगहों पर कोहरे दृश्यता स्तर 10 मीटर से भी कम होगी। कोहरे के कारण लखनऊ के अमौसी हवाई अड्डे पर नियमित उड़ानों में देरी हुई। वहीं रेलवे स्टेशन पर एक दर्जन से अधिक ट्रेनें 12 घंटे की विलंब से चल रही हैं। पिछले 24 घंटे में चुर्क और नजीबाबाद राज्य के सबसे ठंडे इलाके रहे जहां न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। घने कोहरे के कारण बुलंदशहर, बाराबंकी, कौशांबी, हरदोई और सीतापुर समेत कई इलाकों में हुए हादसों में दर्जनो लोग हताहत हो गए। मुख्यमंत्री योगी आदत्यिनाथ ने कोहरे के कारण लोगों से सावधानी बरतने की अपील की है।

हरियाणा में घना कोहरा, नारनौल रहा सबसे ठंडा
हरियाणा में मंगलवार सुबह घने कोहरे कारण कई स्थानों पर दृश्यता घट गई। इस दौरान यातायात प्रभावित रहा। मौसम विभाग के अनुसार, करनाल, अंबाला, हिसार, रोहतक, भिवानी और पंचकुला में दृश्यता काफी कम रही। हरियाणा के नारनौल में कड़ाके की ठंड रही, जहां न्यूनतम तापमान 4.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हिसार में न्यूनतम तापमान छह डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। भिवानी में न्यूनतम तापमान 6.6 डिग्री सेल्सियस और सिरसा में 6.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

पंजाब में आज से देर से खुलेंगे स्कूल
पहाड़ों पर हुई बर्फबारी के कारण पंजाब में भी सर्दी का सितम दिख रहा है। यहां पर घने कोहरे व शीतलहर के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ। पंजाब सरकार ने कोहरे को देखते हुए 21 दिसंबर से 21 जनवरी तक सुबह 10 बजे से स्कूल खुलने की घोषणा की। मौसम विभाग के मुताबिक, पंजाब के अमृतसर, लुधियाना, पटियाला, हलवारा, आदमपुर, बठिंडा, मोहाली और रूपनगर में कम दृश्यता के कारण वाहनों की गति धीमी हो गई। रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब में बठिंडा सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां न्यूनतम तापमान 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 7.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अगले चार-पांच दिनों में पंजाब में अलग-अलग स्थानों पर शीतलहर से लेकर गंभीर शीतलहर की स्थिति रहने की संभावना है।

राजस्थान के फतेहपुर में न्यूनतम तापमान 3.7 डिग्री
राजस्थान के फतेहपुर (सीकर) में सोमवार रात न्यूनतम तापमान 3.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार, आगामी दो-तीन दिन राज्य में अधिकांश स्थानों पर न्यूनतम तापमान औसत के आसपास रहने की संभावना है। वहीं 23-29 दिसंबर के सप्ताह में न्यूनतम तापमान में और हल्की गिरावट होने से सर्दी में बढ़ोतरी होने की संभावना है। इस दौरान अधिकांश स्थानों पर न्यूनतम तापमान औसत या औसत से नीचे दर्ज किए जाने की संभावना है।

कड़ाके की ठंड की चपेट में कश्मीर घाटी
कश्मीर घाटी कड़ाके की ठंड की चपेट में है। घाटी में 40 दिनों तक चलने वाली कड़ाके की सर्दी ‘चल्लिई कलां’ से एक दिन पहले श्रीनगर में तापमान शून्य से 3.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। इस महीने यह तीसरी बार है, जब श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे गिर गया है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान जम्मू-कश्मीर में शुष्क मौसम जारी रहने का अनुमान जताया है। दक्षिण कश्मीर में पहलगाम कश्मीर घाटी का सबसे ठंडा रहा, जहां न्यूनतम तापमान शून्य से 5.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। वहीं उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग के स्की रिजॉर्ट में न्यूनतम तापमान शून्य से 4.0 डग्रिी नीचे दर्ज किया गया।

उत्तराखंड में बर्फबारी के बीच नया साल मनेगा
उत्तराखंड में नया साल बर्फबारी के बीच मनेगा। प्रदेश में 26 दिसंबर के बाद पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की उम्मीद है। बड़ी संख्या में पर्यटक धनौल्टी, औली, हर्षिल, नैनीताल, मसूरी आदि पर्यटन स्थलों में घूमने आते हैं। मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक 26 दिसंबर के बाद उत्तराखंड में बारिश और पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी हो सकती है। तीन सप्ताह बीतने को हैं लेकिन इसके बाद भी दिसंबर में बारिश नहीं हुई है। मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय नहीं होने की वजह से यह स्थिति बनी है। मौसम केंद्र के निदेशक डॉ. बिक्रम सिंह के मुताबिक फिलहाल जम्मू-कश्मीर के कुछ हिस्सों और अफगानिस्तान में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हैं। 26 के बाद पहाड़ी इलाकों खासकर उत्तरकाशी, चमोली में इसके सक्रिय होने और 3500 मीटर तक की ऊंचाई में बर्फबारी के आसार बन रहे हैं।

मुजफ्फरनगर जिला यूपी में सबसे ठंडा रहा
अफगानिस्तान के ऊपर तैयार हुए पश्चिमी विक्षोभ का असर अब पूरे उत्तर प्रदेश पर दिखने लगा है। पूरे राज्य में सर्दी बढ़ गई है। राज्य के अधिकांश जिलों में दिन के तापमान में दो से पांच डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है। दिन में धूप तो खिली पर तापमान कम होने से ठिठुरन बनी रही। मौसम विभाग लखनऊ के मुताबिक मुजफ्फरनगर में दिन का तापमान सबसे कम 16.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह सामान्य से पांच डिग्री कम है। वहीं लखनऊ में दिन का तापमान सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस कम यानी 20.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। अगले एक सप्ताह तक मौसम का यही हाल रहेगा।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में सर्दी ज्यादा
राज्य के पश्चिमी जिलों में सर्दी कुछ अधिक है। मुजफ्फरनगर, मेरठ, मथुरा, गाजियाबाद, बिजनौर के अलावा बरेली, फिरोजाबाद में तापमान सामान्य से तीन से लेकर पांच डिग्री सेल्सियस तक कम रहा। वहीं रात के तापमान में अधिक गिरावट नहीं है। राज्य में न्यूनतम तापमान 7.5 से लेकर 11.5 डिग्री सेल्सियस के बीच बना हुआ है। राज्य में मुजफ्फरनगर सबसे ठण्डा जिला रहा। यहां दिन का तापमान 16.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह सामान्य से पांच डिग्री सेल्सियस कम रहा। वहीं बिजनौर में भी गलन रही। यहां दिन का तापमान 17.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह सामान्य से पांच डिग्री सेल्सियस कम है। बिजनौर की रात राज्य में सबसे सर्द बीती। यहां रात का तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मेरठ में दिन का तापमान 18.7 डिग्री सेल्सियस रहा। यह सामान्य से 4 डिग्री सेल्सियस कम रहा।

छह दिनों तक ऐसा ही रहेगा मौसम
लखनऊ मौसम विभाग के निदेशक मो. दानिश ने बताया कि अब कड़ाके की सर्दी के दिन आ गए हैं। अफगानिस्तान के ऊपर बने पश्चिमी विक्षोभ का असर दिखने लगा है। रात और दिन के तापमान में गिरावट होगी। साथ ही राज्य के पूर्वी और उत्तरी जिलों में कोहरा छाया रहेगा।

झारखंड में सर्दी बढ़ी, कई हिस्सों का तापमान सामान्य से कम
झारखंड के विभिन्न हिस्सों में मंगलवार को भी सर्दी ने परेशान किया। सुबह के दौरान कनकनी से लोग परेशान रहे। संताल के कुछ हिस्सों को छोड़कर राज्य के अधिकांश भागों का न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहा। राजधानी समेत कई जगहों पर सुबह के दौरान घने कुहासे में कमी आई। राज्य में सबसे ठंडा जिला सिमडेगा रहा। यहां का न्यूनतम तापमान 6.2 डिग्री दर्ज किया गया। यह इन दिनों के सामान्य न्यूनतम तापमान से तीन डिग्री नीचे रहा। रांची में न्यूनतम तापमान 9.2 डिग्री और अधिकतम तापमान 25.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राज्य में 23 दिसंबर से बादल छाने का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है। 



Get all latest News in Hindi (हिंदी समाचार) related to politics, sports, entertainment, technology and educati etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and MP news in Hindi. Follow us Google news for latest Hindi News and Natial news updates.

google news

RECOMMENDED FOR YOU

Loading...