HomeEntertainment

घर और मानसिक स्वास्थ्य के बीच संतुलन जरूरी

घर और मानसिक स्वास्थ्य के बीच संतुलन जरूरी

नई दिल्ली, 2 मई (आईएएनएस)। आठवीं वार्षिक आईकिया लाइफ एट होम इंडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि कैसे एक खुशहाल सुव्यवस्थित और कुशल घर हर किसी के लिए खुशनुमा वातावरण बना सकता है और साथ ही बताया गया है कि घर पर संतुलन बनाने के लिए हमें अपनी रोजाना की जरूरी गतिविधियों में संतुलन बनाना चाहिए।

ब्रांड ने अपनी वार्षिक लाइफ एट होम रिपोर्ट जारी की, जिसमें घर पर संतुलन बनाने और कैसे एक संतुलित घर मानसिक स्वास्थ्य में सहायता करता है इस बारे में भी साझा किया गया है। रिपोर्ट में लोगों के वर्तमान घरों के साथ संबंधों के साथ-साथ उनके भविष्य के घरों के लिए उनकी अपेक्षाओं के बारे में भी जानकारी दी गई है।

घर हम सभी के लिए सबसे महत्वपूर्ण स्थानहै। बड़ी संख्या में लोगों के लिए प्रासंगिक और सार्थक होने के लिए आईकिया की दिलचस्पी इस बात में है कि लोग घर पर अपना समय कैसे व्यतीत करते हैं। आईकिया दुनिया भर के लोगों के साथ उनकी इच्छाओं और आकांक्षाओं के बारे में जानने के लिए संचार करता है। साथ ही प्रासंगिक उत्पाद और समाधान प्रदान करने के लिए उन्हें अधिक सरल, आसान और सुविधाजनक अस्तित्व के लिए क्या जरूरी है, ये मुहैया कराता है।

द लाइफ एट होम रिपोर्ट 2014 में शुरू हुई। यह एक ऐसी पहल है जो लोगों के अपने घरों के साथ संबंधों के बारे में ज्ञान इक्ठ्ठा करती है, जिससे आईकिया कई लोगों के लिए घर पर बेहतर जीवन अनुभव प्रदान करने की अनुमति देता है। 2020 की रिपोर्ट ने कार्यात्मक और भावनात्मक स्थान के रूप में घर के महत्व पर जोर दिया, जबकि 2021 की रिपोर्ट में केंद्र बिंदु के रूप में घर के साथ संतुलन प्राप्त करने पर ध्यान केंद्रित किया गया।

–आईएएनएस

एसएस/एसकेपी

RECOMMENDED FOR YOU

Loading...